राष्ट्रीय पंचायत पुरस्कार

ग्रामीण भारत के परिवर्तन के लिए जन कल्याणी योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन में पंचायतों की महत्वपूर्ण भूमिका है। संपूर्ण देश में पंचायतों के बीच कई उत्कृष्ट प्रदर्शनकर्ता है, तो उसे राष्ट्रीय पंचायत पुरस्कार के लिए चुना जाता हैं।

राष्ट्रीय पंचायत पुरस्कार के लिए त्रिस्तरीय पंचायत राज संस्थाओं से निम्नलिखित श्रेणियों में ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए जाते हैं 1 दीनदयाल उपाध्याय पंचायत सशक्तिकरण

पंचायतीराज मंत्रालय, भारत सरकार वर्ष 2011-12 से राज्य सरकारों / केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा अनुशंसित सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली पंचायतों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से प्रतिवर्ष 24 अप्रैल को राष्ट्रीय पंचायतराज दिवस समारोह में पुरस्कार से सम्मानित करता है।

राष्ट्रीय पंचायत पुरस्कार

पुरस्कार यह पुरस्कार सेवाओं और सार्वजनिक वस्तुओं के वितरण में सुधार के लिए प्रत्येक स्तर पर पंचायती राज संस्थाओं द्वारा किए गए अच्छे कार्य की मान्यता के लिए सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाली पंचायतों (जिला, ब्लॉक एवं ग्राम पंचायत ) को दिया जाता है।

नानाजी देशमुख राष्ट्रीय गौरव ग्राम सभा पुरस्कार

यह पुरस्कार ग्राम सभाओं के माध्यम से गांवों की सामाजिक और आर्थिक संरचना में सुधार से संबंधित उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली ग्राम पंचायतों को दिया जाता है।

ग्राम पंचायत विकास योजना पुरस्कार

यह पुरस्कार पंचायतराज मंत्रालय द्वारा जारी मॉडल दिशानिर्देश के अनुरूप एवं राज्य/केंद्र शासित प्रदेशों के विशिष्ट दिशानिर्देशों के अनुसार अपनी जीपीडीपी तैयार करने वाली ग्राम पंचायतों को दिया जाता है।

बाल हितैषी ग्राम पंचायत पुरस्कार

यह पुरस्कार बाल सुलभ प्रथाओं को अपनाने के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाली ग्राम पंचायतों को दिया जाता है।पुरस्कार संबंधी दिशानिर्देशों और ऑनलाइन आवेदन भरने की प्रक्रिया संबंधी जानकारी

हेतु वेबसाइट है। www.panchayat award.gov.in

Scroll to Top