Latter

मध्यप्रदेश शासन

पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग मंत्रालय, भौपाल

क्रमांक

/सी.एफ.सी./2021/439

प्रति,

  1. सेक्टर

जिला रामस्त मध्यदेश

  1. मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत समस्त

विषय- 15 वित्त आयोग अंतर्गत नवीन निर्देश एवं प्रक्रिया के संबंध में। संदर्भ- 1. संयुक्त सचिव, भारत सरकार पंचायती राज संजय काली

19011(16)/3/2016-panchayat for 21.05.2021

  1. संयुक्त सचिव, भारत सरकार पंचायती राजमंधालय का अहसनीय पत्र दिनांक

24.05.2021 3. संयुक्त सचिव, भारत सरकार पंचायती राज मंत्रालय काकी पर क्र. – 11013/1/2020 दिनांक 01.08.2021

कृपया संदर्शित [प का अवलोकन करें, जिसके आधार पर 15वें वित्त आयोग अंतर्गत निम्न निर्देशप्रक्रिया का पालन करें

जिला पंचायत पर्व जनपद पंचायत की वर्ष 2021-22 की कार्ययोजना को दिनांक 15.06.2021 तक अपलोड किया जाना सुनिश्चित करें जिसमें 60 प्रतिशत कार्य

पर्व 40 प्रतिशत कार्य अनटाइड राशि से होना अनिवार्य है। जिला पंचायत एवं जनपद पंचायत, ग्राम पंचायत की क्रियान्वयन एजेंसी बनाकर 154

वित्त आयोग की राशि को वेन्डर के स्थान पर ग्राम पंचायत के माध्यम से व्यय कर सी (SOP परिशिष्ट-1 पर संतरन है।)

ग्राम पंचायत के 2020-21 से लागू नवीन प्रावधान टाईमटाईड राशि के अनुपात 60:40 को सागू करने हेतु ई-नाम स्वराज पोर्टल पर यह प्रावधान किया गया है ि पंचायत 40 प्रतिशत से ज्यादा अनटाइड ग्रांट की राशि आहरित नहीं कर सकेंगी प

गांधी राज्य ग्रामीण विकास एवं पंचायतराज संस्थान, अधारताल, जबलपुर (न.)

104
सानुसार 2021-22 से पूर्व तैयारी में कोई संशोधन करने की आवश्यकता नहीं है। (SOP परिशिष्ट-2 पर संलग्न है।

जनपद पंचायत की राशि का आहरण मुख्य कार्यपालन अधिकारी भैाधिकारी के संयुक्त हस्ताक्षर से किया जाता है। अत: 15 वित्त आयोग की हरण के लिए कार्यात अधिकारी को ही

न किया।

ग्राम पंचायत के 2020-21 से मानून धन राशि के अनुपात 60:40 को लागू करने हेतु ई-ग्राम स्वराज पोर्टल पर यह प्रावधान किया गया है पंचायत 40 प्रतिशत से ज्यादा अनयन ग्रांट की राशि आहरित नहीं कर सकेंगी एवं तानुसार 2021-22 से पूर्व में कोई करने की नहीं है। (SOP परिशिष्ट- 2 पर संगम है।

ग्राम स्वराज पोर्टल में डिजीटल है, मेकर यह कर्तव्य होगा कि वह नियमित म से है- कोमोज करें एवं प्रतिमाह की 01 तारीख को बैंक रिकंसोलेशन करना

दिनांक 10 जून 2021 के पूर्व ग्रामपंचायत/जनपद पंचायत एवं जिला पंचायत को वर्ष 2020-21 में प्रदान की गई चारों किस्तों की शुद्धता पूर्वक प्रवृष्टि सुनिश्चित करें। ग्राम पंचायत के संदर्भ में सेक्टर प्रभारी सर्व उपयंत्री के ग्राम पंचायतों की राशि प्राप्तियाँ की प्रवृष्टियों को सत्यापित कराया

ई-ग्राम स्वराज पोर्टल में वर्ष 2020-21 की प्राप्त राति की प्रवृष्टि 10 जून 2021

तक नहीं होने की स्थिति में पंचायत राचि आहरित नहीं कर सकेंगी।

जिला पंचायत के डी-पडमिन लॉगिन से सभी ग्राम पंचायतों को मोबाइल एप एम-एक्शन सॉफ्ट के लिए यूजर आईडी एवं पासवर्ड प्रदान करना सुनिश्चित करें एवं 2020-21 में लिये गये कायों का जियोटेम कराव

10, 15वें वित्त आयोग अंतर्गत वर्ष 2020-21 में 10 प्रतिशत राशि टाईड (आबद्ध राशि) उपयंत्री एवं सेक्टर प्रभारी के माध्यम से प्रभावी मॉनिटरिंग कर सुनिश्चित करें की इस निर्देश का गंभीरता पूर्वक पालन किया जाये।

  1. पंचायत जनपद पंचायत पर जिला पंचायत की दर की क्लोजिंग 10 जून 2021 तक पूर्ण करा

7.

महात्मा गांधी राज्य ग्रामीण विकास एवं पंचायतराज संस्थान, अधारताल, जबलपुर (म.प्र.).

105

12.

-3

पंचायतों द्वारा कोविड-19 महामारी की रोकथाम हेतु किये गये व्यय का प्रावधान ही पोर्टल पर भारत सरकार द्वारा किया आगा

(उमाकांत उमडा)

मध्यप्रदेश शासन पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग

पू.क्रमांक/ /सी.एफ.सी./पं.रा./2021/५५०

प्रमुख सचिव भोपाल, दिनांक 15 06.2021

प्रतिलिपि –

  1. संभागायुक्त, संभाग – समस्त, मध्यप्रदेश की और सूचनार्थ एवं आवश्यक कार्यवाही हेतु प्रेषित।
  2. मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जनपद पंचायत – समस्त की और सूचनाएं पर्व आवश्यक कार्यवाही हेतु प्रेषित

प्रमुख अविद ‘मध्यप्रदेश शासन

पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग

मित

साम

2021

राधि

105

महात्मा गांधी राज्य ग्रामीण विकास एवं पंचायतराज संस्थान, अधारताल, जबलपुर (म.प्र.)

106
परिशिष्ट – 5

पंचायत राज संचालनालय, मध्यप्रदेश

(Telephone] [0755-2557727)

(mall addr dirpanchayat@mp.gov.l)

atre, S/07/2002

सेक्टर समस्त

जिला म.प्र.

कार्यकारी जिला पंचायत म.प्र.

कार्यपालन अधिकारी (समस्त) जनपद पंचायत, म.प्र. 1

उपयोग के संबंध में दिशा-निर्देश

12022 के राज्य आयोग की अनुको सानू किये निदादा है जिनके तहत प्रदेश की समस्त जनपद पंचायत को आ किराना ही है। के उपयोग हेतु दिशा-निर्देश जारी

  1. नि

1.1. ग्राम पंचायत विकास योजना (GPDP).

ग्रामपंचायती दुवारा ग्राम सभा की सहभागिता से ग्राम पंचायत क्षेत्र के लिए चिन्हित प्राथमिकताओं के अनुसार ग्राम पंचायत विकास योजना (GPDP) तैयार की जायेगी

गई गतिविधियों को नजरी नक्शा / डिजीटल रूप से सेक्टरवार आवश्यक प्रदर्शित किया जाये प्रत्येक प्रस्तावित गतिविधि पर धर्म कर ग्राम पंचायत के अंतिम दिन जाकर मंचायत दर्पण पोर्टल पर अपलोड किया

1.2(SPOP)

दो से अधिक ग्राम पंचायतों में है या जिन्हें अधिक राशि ★ आधार पर किया गया हो, उन्हें जनपद पंचायत विकास योजना में

की धारणा के द्वारा तैयार की गे

महात्मा गांधी राज्य ग्रामीण विकास एवं पंचायतराज संस्थान, अधारताल, जबलपुर (म.प्र.)

107
बीपीडीपी में प्रस्तावित गतिविधियों पर पोकर पंचायत के ज्ञान को अंतिम रूप दिया जायेगा एवं दर्पण पोर्टल पर किया।

13 जिला पंचायत विकास (oron

ऐसे करदोगा से अपच में हो या जिन्हें अधि राति के आधार पर जनपद के अमित किया गया है. उन्हें जिला पंचायत विकास योजना में सम्मिलित किया जायेगा जिया पंचायत की विकास योजना पंचायत की साधारण सभा के द्वारा तैयार की जावेगी, जिसमें सभी लाईन डिपार्टमेंट के प्रमुख

डीपीडीपी में प्रस्तावित गतिविधियों पर कर जिला पंचायत के अंतिम प

दिया जायेगा पर्वत पर अपलोड किया जा

  1. कार्यो का निर्धारण

राज्य वित्त आयोग द्वारा अनुशंसित राशि से किये जाने वाले को मुख्यतः ि

सैक्टर में विभाजित किया गया है

21 पंचायत एवं ग्राम स्वराज अधिनियम 1993 की धारा 53 अंतर्गत राज्य सरकार

धारा पर गये विशिष्ट

  1. कीमत करने वाली परिसंपति के निर्माण पी

25 ग्रामीण व मानसिक एवं कारीरक स्वास्थ्य कार्य

24 सुपरथित कार्यालय पर्व सुदान स्थापित करने के निर्य

2.5

24 स्वामी परिसंपत्तियों के संधारण

2.1 मध्यदेशयम 1993 की धारा 63 अंतर्गत राज्य सरकार पर निम्न कार्य संपादित करने के लिए निर्देशित किया है वर्ष 2022-23 तुको

21.1.नीय मुख्यमंत्री पर उप अंत रूप से राज्य वित्त आयोग की राशि से पूर्ण करना होगा (घोषणा में सेवित कार्य को किसी भी सम पंचायत यातपंपावत के सीधे स्वीकृति प्रदान करत

मला गाधी राज्य ग्रामीण विकास एवं पंचायतराज संस्थान अधारताल, जबलपुर (म.प्र.)

4

107

108
2.1.2लिये गये सभी सार्वजनिक विद्युत कनेक्शन के बिलों का शत्-प्रतिशत वर्ष 2022-23 प्रकार के विद्युत देयकों का भुगतान नहीं किया विद्युत समस्त उत्तर वि पंचको विदेशी के समस्त गाना दर्पण पोर्ट के माध्यम से किया जाना अनिवार्य होगा।

(213 आदि में स्वीकृत प्रथम किश्त जारी की गई थी, राति अभाव के कारण दद्वितीय किश्त राज्य स्तर के जारी माँ की सकती है। ऐसे सभी कार्यों को देते हुए राज्य वित्त आयोग से उपलध राशि से पूर्ण करना होगा।

22 पंचायतों की आय सूचित करने वाली परिसंपत्तियों के निर्माण संबंधी कार्य

22.1. ई टूरिज्म क्षेत्र की संभावना वाली ग्राम पंचायते, चिन्हित स्थान विशेष तक

तथा शौचालय पेयजल आदि मूलभूत सुविधाएं विकसित कर सकेगी।

22.2. ऐसी पंचायत जहां पर्यटकों का आवागमन होता है वहां पर्यटकों के शुल्क सहित ठहरने के लिए सर्वसुविधा युक्त आश्रय स्थल का निर्माण एवं संचालन!

2.2.3. मैरिज गार्डन का निर्माण एवं संचालना

22.4. ग्रामीण शिल्पियों हेतु शासकीय भूमि पर चमूत छोटी-छोटी दुकानों का निर्माण

22.5. हाट बाजार निर्माणा

22.8. दुकानों सहित यात्री प्रतिज्ञालय का निर्माण

2.2.7. दुकान सहित बस स्टेण्ड का निर्माण

2.23. सामुदायिक आर.ओ. वाटर प्लांट की स्थापना (ग्राम पंचायत दुबारा ज्यूनतम दर पर आरओ वाटर उपलब्ध कराया जा सकेगा।

  1. में पर्यावरण संरक्षण पर्व संवर्धन हेतु विक्रय केन्द्र की स्थापना

महात्मा गांधी राज्य ग्रामीण विकास एवं पंचायतराज संस्थान, अधारताल, जबलपुर (म.प्र.)

109

23 जन के मद पर सारीरिक स्वास्थ्य हेतु सुविधासंबंधी कार्य

231, जिसने पुस्तकों की तथा मुस्तस्य प्रभारी पर होने वाला शरिरित रहेगा पुस्तक के रूप में सेवानिवृत किया किसी पहली महिला गावित किया जा सकता है, जिसे वारा रु. 300/- का भुगतान किया जा सकता है।

232 का निर्माण पानधारणा

2.3.3. छात्र-छात्राओं को विज्ञान के विभिन्न पहलुओं से परिचित कराने के लिए प्रयोग निर्माण एवं जिसमें विभिन्न मौसी का निर्माण, उपकरणों की पर होने वाला व्यय सम्मिलित रहेगा प्रयोगशाला प्रभारी के रूप में सेवानित शिक्षक व किसी पीलाको नाम किया जा सकता है, जिसे द्वाराधितम मासिक रु. 300/- या जाता है। प्रथम चरण में वर्ष 2022-23 में यह कार्य 5000 से ज्यादा जनसंख्या ती मैं लिया जा सकता है

21.4 ग्रा-छात्राओं के समय हेतु निर्माण एवं

2.3.5 सार्वजनिकपाका निर्माण (पार्क में पेवर ब्लॉकबँच, फुटपाथ, नाईट तथा पानी की व्यवस्था की जाना)

235 चिस्तृत पार्क निर्माणकाला या आंगनवाडी केन्द्र के समीप 10 साल से कम आयु

के के लिए विभिन्न झूमी, सतों आदि की व्य

सकती है।

23.7. मुर्ती तु स्थापना

2.3.8.सार्वजनिक स्थान पर या रहित वातावरण निर्माण

23.9.की स्थापना एवं संचालन किसी सार्वजनिक स्थान पर के रूप में चिन्हित स्थान जहां गांव किशोरी बालिकाएं एवं महिलाएँ बैठ कर स

23.10. डा गौरव स्मारक का निर्माण

109

महाराजा ग्रामीण विकास एवं पंचायतराज संस्थान, अधारताल, जबलपुर (म.प्र.)

110
12.4 स्थित सुगम स्थापित करने के लिए अनिवार्य कार्या संबंधी कार्य

241 पूर्ति के लिए की

242

244 र

245 को देने के लिए पीओएस मशीन की स्थापना अपने विभिन्न भुगतान कार्ड के माध्यम से किया जाना संभव होगा।

248 पंचायत कार्यालय की बाउन्ड्री निर्माण एवं सुरक्षा संबंधी

2.4.7. पंचायत कार्यालय प्रमिन में छा तथा आगंतुकों के बैठने के लिए चबूतरा निर्माणा

241 पंचायत की विभिन्न बैठक संचालन पर होने वाला व्या

243.चिन्हित गतिविधियों से संपादित करने संबंधी कार्य

24.10 प्रतिवर्ष आयोजित होने पर धन द्वारा निर्धारित सीमा के अंतर्गत

2411 स्ट्राईका कार्य

25 मीन अधोसंरचनात्मक कार्य

  1. निर्माण 2.51. सनी के अंदर तथा अत्यंत सकरी गलियों में पेवर का कार्य

2.5.3. – Batory

244 ईस्ट अ

25.7. और के अनुसार।

महात्मा गांधी राज्य ग्रामीण विकास एवं पंचायतराज संस्थान अधारताल, जबलपुर (1.12.)

111
(25 स्थायी परिसंपत्तियों के संधारण संबंधी कार्य

26.1. पंचायत भवन मरम्मत तथा अन्य सभा की मरम्मत, पुताई, बिज

फिटिंग

20.2. के निर्माणधारण 2.6.3. गांव के पक्के शतियस्त आंतरिक मार्गों का सुधारा

(2.8.4. गांव की पक्की नालियों का सुधारा 2.6.3. स्टॉपडेम मरम्मत, गेट सुधार।

28.8. पुराने पेयजल कूपी/बावड़ियों का सुधार

2.8.7. घाटी की पुताई एवं सफाई।

2.6.8. पंचायत के स्वामित्व वाले टैंकर की मरम्मत तथा टायर ब

2.6.9. जम योजनाओं का संधारणा

  1. गैर अनुमत्य कार्य
  2. खनन एवं उसका संधारण (यह कार्य पी.एच.ई. द्वारा किया जावेगा|
  3. मलकूप खनन (यह कार्य पी.ई. द्वारा किया जायेग
  4. पेयजल परिवहन पर
  5. मुरमीकरणाचैवन रोड
  6. किसी भी प्रकार के वाहका
  7. के
  8. पर्यवेक्षण पर्व क्रि

4.1. संपूर्ण राधिका दर्पण पोर्टल के माध्यम से होकर

4.2. प्रत्येक निर्माण कार्य की प्रविष्टि कार्य स्वीकृति के साथ ही पंचायत दर्पण पोर्टल पर कीजाना होगी।

  1. निर्माण समय तप्त कार्य पूर्ण होने के जियो टैग पंचायत दर्पण एप्प/पीर्टस पर अनिवार्य होगा

महात्मा गांधी राज्य ग्रामीण विकास एवं पंचायतराज संस्थान, अधारताल, जबलपुर (म.प्र.)

112
7.

4.4. स्थायी परिसंपतियों के संधारण संबंधी कार्यों के लिये इस संबंध में जारी तकनीकि एवं

प्रशासकीय स्वीकृति प्रक्रिया करना होगा 4.5. प्रत्येक व्यय का बिल वाउचर संधारित करना अनिवार्य होगा।

७. राशि के दुरुपयोग की स्थिति में क्रियान्वयन पक्षी का यमित्व निर्धारित करते हुए वैधानिक

कार्यवाही की जायेगी। 47. कार्य की प्रकृति तथा राह की उपलब्धता के अनुसार मनरेगा योजना में कर्जत किया जा

सकेगा।

4.8. राज्य शासन या पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग द्वारा उक्त के अतिरिक्त अन्य को 5 राज्य वित्त आयोग अंतर्गत संपादित करने के लिए भी बाग, जनपद एवं जिला को निर्देशित आदेशित किया जा सकेगा।

उका दिशा-निर्देशों का पालन किया जाना सुनिश्चित करें।

( कुमार सिंह) संचालक सहआयुक्त, पंचायतराज संचालनालय म.प्र. भोपाल, दिनांक 6507/2022

पृष्ठ मांक/SC/2022/16063

प्रतिलिपि::

  1. मुख्य सचिव, मध्यप्रदेश शासना

2- प्रमुख सचिव, मध्यप्रदेश शासन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभागा

3- प्रमुख सचिव, मध्यप्रदेश शासन, वित्त विभागा 4- संभागीय आयुक्त संभाग (समस्त)

5- आयुक्त, मनरेगा|

6 राज्य कार्यक्रम अधिकारी, स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) ।

7- प्रमुख अभियंता, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा।

ॐ विशेष सहायक, माननीय मंत्र मध्यप्रदेश शासन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग

3- विशेष सहायक माननीय राज्य मंत्री, मध्यप्रदेश शासन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभागा

संचालक सहआयुक्त पंचायतराज संचालनालय म..

गांधी राज्य ग्रामीण विकास एवं पंचायतराज संस्थानल

Scroll to Top