जनभागीदारी

कार्य हेतु अंशदान एवं अभिसरण (कनवरर्जेस)

कार्य हेतु अंशदान कार्यों हेतु ग्राम पंचायत स्तर पर अंशदान की अनिवार्यता नहीं होगी। किंतु ग्राम पंचायत द्वारा अंशदान अस्वीकार नहीं किया जावेगा। यह अंशदान पंचायत के रिसोर्स एनवलप का भाग होगा ग्राम पंचायतें इस अंशदान का उपयोग उन कार्यों के निष्पादन में गेप फिलिंग के लिये कर सकेंगी जहाँ अन्य मद उपलब्ध ना हो

कार्य हेतु अंशदान एवं अभिसरण (कनवरर्जेस) Read More »

ग्राम पंचायत विकास योजना के घटक

कार्य हेतु अंशदान एवं अभिसरण (कनवर्जेस) ग्राम पंचायत विकास योजना के निर्माण, क्रियान्वयन की विभिन्न स्तर की भूमिका एवं जिम्मेदारियां ग्राम पंचायत विकास योजना कार्यान्वित होने के पश्चात् अपेक्षित परिणाम ग्राम पंचायत विकास योजना का ई-संस्करणः पंचायत दर्पण ग्राम पंचायत विकास योजना GPDP प्रपत्रों को भरे जाने के संबंध में सामान्य निर्देश परिशिष्ट-क रिसोर्स एनवलप

ग्राम पंचायत विकास योजना के घटक Read More »

पी. आर. ए. से आंकड़ों के संकलन –

प्राथमिक आंकड़ों के संकलन हेतु सहभागी नियोजन की प्रक्रिया अपनाते हुए पी.आर.ए. (सहभागी ग्रामीण आंकलन) पद्धति का उपयोग किया जायेगा। पी.आर.ए. ग्रामीणों की महत्वपूर्ण समस्यायें एवं निराकरण की संभावनाओं को शीघ्रतम ज्ञात करने हेतु यह एक अनौपचारिक तरीका है। प्राथमिक आंकड़ों के संकलन हेतु ग्राम पंचायत स्तर पर विभिन्न गतिविधियों को उपयोग किया जा सकता

पी. आर. ए. से आंकड़ों के संकलन – Read More »

पी. आर. ए. हेतु दिशानिर्देश

वे जानते हैं इसलिए उन्हें प्राथमिकता (ग्रामीण) वे कर सकते हैं (पी.आर.ए. की विधियां कार्यों का नियोजन एवं क्रियान्वयन) वार्तालाप को ध्यान से सुनें व सीखने का प्रयास करें। लोगों से उनकी सुविधा व समय के अनुसार मिलें न कि अपनी सुविधा अनुसार । प्रक्रिया में ज्यादा हस्तक्षेप न करें, जल्दबाजी न बताएं। आलोचना न

पी. आर. ए. हेतु दिशानिर्देश Read More »

पी.आर.ए. (PARTICIPATORY RURAL APPRAISAL)

पी. आर. ए. (सहभागी ग्रामीण आंकलन) अंग्रेजी शब्द (पार्टीसिपेटरी रूरल एप्रेजल) का संक्षिप्त रूप है। इसे हिन्दी में सहभागी ग्रामीण समीक्षा या सहभागी ग्रामीण आंकलन कह सकते हैं। यूं तो पी. आर.ए. का उपयोग विकास के किसी भी क्षेत्र में किया जा सकता है, किन्तु इसका उपयोग जन भागीदारी से विकास योजनाओं के निर्माण में

पी.आर.ए. (PARTICIPATORY RURAL APPRAISAL) Read More »

ग्राम सभा में विचार किये जाने वाले बिन्दु

हर विषय पर अलग से विस्तृत चर्चा की जानी चाहिए। कोई भी शंका या प्रश्न होने पर उसका तुरंत समाधान होना चाहिए। ग्राम सभा में लिये गए निर्णय को सभा के अंत में सभी को पढ़कर सुनाना चाहिए। ग्राम सभा के मिनिट्स में, ग्राम सभा के सदस्यों के हस्ताक्षर होने चाहिए।  ग्राम पंचायत के संबंध

ग्राम सभा में विचार किये जाने वाले बिन्दु Read More »

ग्राम सभा

प्रदेश का ग्रामीण क्षेत्र राजस्व ग्रामों और वन ग्राम की मौलिक इकाई में बेटा हुआ है। पंचायती राज के संदर्भ में राज्यपाल ने इन्हीं राजस्व ग्राम और वन ग्राम की सीमा को ग्राम के रूप में घोषित तथा परिभाषित किया है। ग्राम सभा पंचायती राज की आधारभूत इकाई है। ग्राम सभा प्रत्येक राजस्व ग्राम या

ग्राम सभा Read More »

ग्राम पंचायत विकास योजना के निर्माण के विभिन्न चरण:

. ग्राम पंचायत विकास योजना प्रक्रिया के क्रियान्वयन हेतु पंचायत समिति की बैठक । ग्राम पंचायत विकास योजना में प्रशिक्षित प्रभारी अधिकारियों द्वारा, ग्राम पंचायत समिति को जीपीडीपी की अवधारणा से अवगत कराया जाएगा। ग्राम पंचायत विकास योजना की तैयारी की विभिन्न चरण एवं प्रक्रिया से ग्राम पंचायत समिति को अवगत कराना। योजना निर्माण में

ग्राम पंचायत विकास योजना के निर्माण के विभिन्न चरण: Read More »

ग्राम पंचायत विकास योजना के वातावरण निर्माण हेतु गतिविधियां की जा सकती हैं।

. प्रत्येक ग्राम पंचायत के लिए एक ग्राम पंचायत विकास योजना तैयार की जाएगी। योजना की तैयारी शुरू होने से पहले, व्यवस्थित माहौल तैयार करने और सामाजिक जागरूकता की व्यवस्था की जाएगी, इस कार्य में ग्राम पंचायत की पूरी भागीदारी होनी चाहिए। कुछ प्रमुख कार्यकलाप, जिन पर विचार किया जा सकता है, इस प्रकार हैं

ग्राम पंचायत विकास योजना के वातावरण निर्माण हेतु गतिविधियां की जा सकती हैं। Read More »

Scroll to Top