नगदी फसल

सहजन की खेती (Moringa)

सहजन के पेड़ (Moringa oleifera Lamk,)अच्छी तरह से अपनी बहु प्रयोजन के गुण, विस्तृत अनुकूलनशीलता और स्थापना की आसानी के लिए जाना जाता है। इसकी पत्तियां, फली और फूलों सभी मनुष्यों और पशुओं दोनों के लिए पोषक तत्वों के साथ पैक कर रहे हैं। संयंत्र के लगभग हर हिस्से में भोजन की है मूल्य। पत्ते […]

सहजन की खेती (Moringa) Read More »

isabgol cultivation

ईसबगोल

ईसबगोल Plantago ovata Forsk. एक अत्यंत महत्वपूर्ण औषधीय फसल है।औषधीय फसलों के निर्यात में इसका प्रथम स्थान हैं। वर्तमान में हमारे देश से प्रतिवर्ष 120 करोड के मूल्य का ईसबगोल निर्यात हो रहा है। विश्व में ईसबगोल का सबसे बडा उपभोक्ता अमेरिका है। विश्व में इसके प्रमुख उत्पादक देश ईरान, ईराक, अरब अमीरात, भारत, फिलीपीन्स

ईसबगोल Read More »

Mooli ki Kheti

मूली की खेती

म.प्र. में गाजर एवं मूली की खेती प्रायः सभी जिलों में की जाती है। सामान्यतः सब्जी उत्पादक कृषक सब्जियों की अन्य फसलों की मेढ़ों पर या छोटे-छोटे क्षेत्रों में लगाकर आय अर्जित करते है। शीत ऋतु में ही कृषक दोनों फसलों को 50-60 दिन में तैयार कर पुनः बोवनी कर दो बार उपज प्राप्त कर लेते

मूली की खेती Read More »

Ginger Agriculture

अदरक की खेती कैसे करे

अदरक सामान्य परिचय ‘अदरक‘ शब्द की उत्पत्ति संस्कृत भाषा के स्ट्रिंगावेरा से हुई, जिसका अर्थ होता है, एक ऐसा सींग या बारहा सिंधा के जैसा शरीर ।अदरक मुख्य रूप से उष्ण क्षेत्र की फसल है । संभवत: इसकी उत्पत्ति दक्षिणी और पूर्व एशिया में भारत या चीन में हुई । भारत की अन्य भाषाओं में

अदरक की खेती कैसे करे Read More »

Gajar Ki Kheti

गाजर उत्पादन उन्नत तकनीक

गाजर उत्पादन उन्नत तकनीक गाजर का जड़ वाली सब्जियों में प्रमुख स्थान है। इसे संपूर्ण भारत में उगाया जाता है। इसका उपयोग सलाद, अचार, हलुआ आदि बनाने में किया जाता है। गाजर में विटामिन ए’’ अधिक मात्रा में पाया जाता है। जलवायु गाजर को विभिन्न प्रकार की भूमियों में उगाया जा सकता हैं। लेकिन, अच्छी

गाजर उत्पादन उन्नत तकनीक Read More »

Peanut Farming

मूंगफली की उन्नत फसल उत्पादन तकनीक

मूंगफली म.प्र. में मूंगफली प्रमुख रूप से शिवपुरी, छिंदवाड़ा, बड़वानी, टीकमगढ, झाबुआ, खरगोन जिलों में लगभग 220 हजार हैक्टेयर क्षेत्रफल में होती है। ग्रीष्मकालीन मूंगफली का क्षेत्र विस्तार धार, रतलाम, खण्डवा, अलीराजपुर, बालघाट, सिवनी, होशंगाबाद एंव हरदा जिलों में किया जा सकता है।  मूंगफल में तेल 45 से 55 प्रतिशत, प्रोटीन 28 से 30 प्रतिशत

मूंगफली की उन्नत फसल उत्पादन तकनीक Read More »

Cotton Cultivation

कपास की खेती में बम्फर पैदावार कैसे प्राप्त करे (Cotton Farming Guide)

कपास की उन्नत उत्पादन तकनीक कपास रेशे वाली फसल हैं यह कपडे़ तैयार करने का नैसर्गिक रेशा हैं।मध्यप्रदेश में कपास सिंचित एवं असिंचित दोनों प्रकार के क्षेत्रों में लगाया जाताहैं। प्रदेश में कपास फसल का क्षेत्र 7.06 लाख हेक्टेयर था तथा उपज 426.2 किग्रा लिंट/हे.बीटी कपास में रस चूसक कीटों के नियंत्रण के लिये 2-3छिडकाव कर

कपास की खेती में बम्फर पैदावार कैसे प्राप्त करे (Cotton Farming Guide) Read More »

Scroll to Top